‘युवा, शिक्षित, ईमानदार छवि के साथ जन-समर्थित उम्मीदवार हैं नवीन गोयल’

नवीन गोयल।

‘कैसा हो गुरुग्राम का विधायक’ कार्यक्रम पर लोगों की राय

गुरुग्राम गज़ट ब्यूरो।

गुरुग्राम। हरियाणा विधानसभा चुनाव की घोषणा के साथ ही चुनाव लड़ने को तैयार नेता अपनी बात जनता के सामने रख रहे हैं। ‘गुरुग्राम का नुमाइंदा कैसा हो’ इस विषय पर लोगों ने अपनी राय रखी और अपने संभावित जन प्रतिनिधियों के संबंध में कई बातें भी कहीं। चुनाव में अब जनता को बरगलाया नहीं जा सकता। लोग सिर्फ विकास की ढोल पीटने वाले नेताओं से अपना पिंड छुड़ाने को व्यग्र हैं। जिन्हें भी जनता ने अपना नेता बनाया, विधानसभा तक पहुंचाया, सही मायने में व्यवहारिक तौर पर उनके काम पर ही अब आकलन होगा। जनता कसौटी पर कसकर ही अपना नुमाइंदा चुनेगी।

इस विषय पर गुरुग्राम की जनता ने अपनी राय प्रकट की है। सदर बाजार में गारमेंट्स विक्रेता अजय गोयल ने बताया कि जनप्रतिनिधि की पहली खूबी यह है कि वह ईमानदार हो। सही मायने में ईमानदार उम्मीदवार ही जनता की भलाई कर सकता है। वर्तमान में संभावित उम्मीदवारों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि समाजसेवा के साथ राजनीति में पदार्पण करने वाले नये चेहरे के रूप में नवीन गोयल दिखाई देते हैं। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में परिवर्तन जरूरी है।

एमएम पब्लिक स्कूल के निदेशक मनोज गुप्ता (गुड्डू) ने कहा कि ईमानदारी के साथ जनप्रतिनिधि शिक्षित भी हो। शिक्षित प्रतिनिधि जनता के हक में विभिन्न फोरम पर ठोस रूप में अपनी बात रख सकता है। चूंकि वे शैक्षिक संस्था से जुड़े हैं, इसलिए वे शिक्षित प्रतिनिधि चाहते हैं और यह जरूरी भी है। ईमानदार और पढ़ा-लिखा जनप्रतिनिधि जब हमारा प्रतिनिधित्व सरकार में करेगा तो वह विकास के कार्यों को बेहतरी से करवा भी पायेगा। समाजसेवा के क्षेत्र में बड़ा नाम नवीन गोयल इस उम्मीद पर खरे हैं और वे चाहते हैं कि वे उम्मीदवार बनकर जनता के बीच आयें और विधायक बनकर जनता की सेवा करें।

राजेश गुलिया ने कहा कि हमारा प्रतिनिधि युवा भी होना चाहिये। हमारा देश युवाओं का देश है। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी युवाओं को फोकस करते हुये देश ही नहीं विदेशों में भी भारत के विकास में युवाओं की भागीदारी की बात करते हैं। इसलिए युवा प्रतिनिधित्व अपने क्षेत्र का विकास जोश के साथ करवा सकता है। उसकी सोच औरों से अलग होगी। वह काम को अति उत्साह के साथ करेगा। युवाओं की देश में संख्या बहुत है। अपने क्षेत्र में युवा नेता के रूप में वे मात्र 36 साल के समाजसेवी नवीन गोयल में वह छवि देखते हैं, जो कि युवा जोश व सोच के साथ विकास के नये आयाम स्थापित करे।

पटेलनगर निवासी अनिल यादव की पसंद भी नवीन गोयल हैं। उनका कहना है कि वे युवा भी हैं। शिक्षित भी हैं और जोशिले व उत्साहित भी हैं। उनको पार्टी द्वारा उम्मीदवार बनाया जाना चाहिये। यह समय की मांग भी है। युवाओं को मौका तो देश में दिया ही जा रही है। इसलिए इस बार गुरुग्राम में युवा नेता को उम्मीदवार बनाकर चुनाव मैदान में पार्टी उतारे, ताकि वह विकास के रास्ते खोले। नवीन गोयल को साफ छवि का बताते हुये अनिल यादव कहते हैं कि ऐसे व्यक्ति को राजनीति के चुनाव रूपी मैदान में मौका दिया जाना चाहिये। जनता उन्हें अपना भरपूर समर्थन देगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *