मोहित मदन ग्रोवर के नाम पंजाबी बिरादरी का एक मुश्त समर्थन

कांग्रेस के चार बार विधायक रहे धर्मबीर गावा सहित पंजाबी बिरादरी के नेता गुरुग्राम विस उम्मीदवार मोहित मदन ग्रोवर के साथ।

कांग्रेस के खिलाफ पंजाबी बिरादरी एकजुट कहा, बिरादरी का हक दूसरे को दिया। बीजेपी तो हमेशा से दूसरे समुदाय का उम्मीदवार खड़ा करती रही है।    

Manoj Kumar Tiwary/ Gurugram gazette Bureau.

गुरुग्राम। 70 हजार से अधिक पंजाबी बिरादरी के वोटरों के हक में गुरुग्राम विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार नहीं उतारने पर समुदाय खासकर, कांग्रेस पार्टी के खिलाफ एकजुट नज़र आ रही है। पंजाबी बिरादरी के विभिन्न सामाजिक-धार्मिक संगठनों में यह गुस्सा साफ देखी जा सकती है। नाम प्रकाशित नहीं करने की शर्त पर समाज के विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों ने कहा कि गुरुग्राम विस में लंबे समय से पंजाबी बिरादरी का उम्मीदवार विधायक बनता रहा है। परंतु, पिछले दो चुनावों में समाज की एकजुटता में कमी के चलते यह सीट दूसरे समुदाय के पास चली गई। इसका मलाल यहां के पंजाबी समाज में है। उन्होंने एक स्वर में कहा, मोहित मदन ग्रोवर हमारे समाज का शानदार लड़का है और उसका समर्थन हमारा दायित्व है।

समाज के लोगों ने बातचीत में कहा कि उन्हें खासकर कांग्रेस पार्टी से ज्यादा निराशा हाथ लगी है जब कांग्रेस ने पंजाबी समाज से इस सीट को काटकर दूसरे को दे दिया। उन्होंने कहा उनका गुस्सा भी सबसे ज्यादा कांग्रेस पार्टी से ही है। उन्होंने कहा कि भारत में लोकतांत्रिक पार्टियां हर जगह वर्ग समीकरण को ध्यान में रखकर उम्मीदवार खड़ा करती रही है। इसीलिए जन निर्वाचित  प्रतिनिधित्व में विविधता देखने को मिलती है। दलीय लोकतांत्रिक शासन प्रणाली में राजनीतिक पार्टियां इस मुद्दे पर ध्यान देती रही है। लंबे समय बाद ऐसा पहली बार हुआ है जब कांग्रेस-बीजेपी या किसी भी दल ने पंजाबी समुदाय से कोई उम्मीदवार नहीं उतारा है।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि बीजेपी निश्चित रूप से पंजाबी समुदाय से राज्य का सीएम बनाया है परंतु, गुरुग्राम विधानसभा का स्वाभाविक टिकट पंजाबी समुदाय के उम्मीदवार से बनता है। उन्होंने कहा, उनके सामने मोहित मदन ग्रोवर के रूप में एक बेहतर विकल्प है और उसे वे समर्थन देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *