हरियाणा में 11 नये कोरोना पॉजिटिव, सभी मरकज़ से जुड़े, 1305 ज़माती क्वारंटीन  

तबलीगी ज़माती।

पलवल जिले में 8 जमाती कोरोना पॉजिटिव, सभी का कनेक्शन निजामुद्दीन मरकज़ से। केवल नूंह  (मेवात) में ही मिले 57 विदेशी सहित 636 जमाती 

Report4India Bureau (सहयोगी न्यूज़ वेवसाइट गुरुग्राम गज़ट के लिए)/ नई दिल्ली/ गुरुग्राम/ चंडीगढ़ (एजेंसी इनपुट सहित)।

तबलीगी जमात ने देश भर में कोरोना के प्रसार को कई गुना बढ़ाने का काम किया अन्यथा भारत कोरोना को कंट्रोल कर चुका था। ताजा मामले में हरियाणा में 11 नये कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं जिसमें से 8 सीधे-सीधे निजामुद्दीन मरकज़ से जुड़ा हुआ है। अन्य जीन के बारे में जो जानकारी प्राप्त हुई है वे भी तबलीगी चेन से ही जुड़े जो जमातियों के संपर्क में थे।

हरियाणा में कोरोना केस को लॉकडाउन के बाद कंट्रोल कर लिया गया था परंतु, तबलीगी जमातियों ने राज्य में नये केसों में अचानक से बढ़ोतरी कर दी है। जमातियों के चलते गुरुग्राम, फरीदाबाद, पलवल, नूंह (मेवात), पंचकूल, यमुनानगर, सोनीपत, जींद में हरियाणा पुलिस ने 266 तबलीगी जमातियों के ट्रैक किया है, जो अलग-अलग राज्यों में काम कर रहे थे और वे अब प्रदेश लौट आए हैं। ये सभी पिछले 10 दिनों में हरियाणा में अपने गांवों में वापस लौटे हैं। उन्हें फिलहाल क्वारंटाइन में रखा गया है और इन लोगों में से ही 11 पॉजिटिव केस सामने आए हैं। अन्य की जांच रिपोर्ट आनी है।

उधर, झज्जर जिले के बाढ़सा स्थित नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट में कोरोना संक्रमित इलाज के लिए भर्ती 100 से अधिक तबलीगी जमातियों को हरियाणा का केस नहीं माना गया है। हरियाणा सरकार ने कहा कि बाढसा इंस्टीट्यूट एम्स नई दिल्ली के अंतर्गत आता है और इसमें उपचाराधीन लोगों के बारे में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से ही कोई जानकारी दी जा सकती है। बाढ़सा में जिन लोगों या जमातियों का उपचार चल रहा है, हरियाणा सरकार उसकी मॉनीटरिंग नहीं कर रही है। यहां भी भर्ती जमातियों द्वारा मेडिकल टीम के साथ दुव्यर्वहार करने की खबरें मिल रही है। बाढ़सा के ग्रामीण इन जमातियों के यहां भर्ती किए जाने का विरोध कर रहे हैं और डर के साये में जीने को मजबूर हैं। उनक मांग है कि यहां से इन्हें तुरंट दूसरी जगह शिफ्ट किया जाए। यहां भर्ती जमातियों में 72 से ज्यादा कोरोना पाजीटिव हैं।

इधर, हरियाणा पुलिस, खुफिया एजेंसियां और स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने 48 घंटों में प्रदेश के 15 जिलों में तबलीगी जमात के 1305 लोगों को ट्रैक किया है, जिन्हें क्वारंटाइन किया गया है। इनमें से 57 विदेशी सहित 636 तबलीगी जमाती केवल मेवात (नूंह) में मिले हैं।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *